लोकसभा के पूर्व स्पीकर सोमनाथ चटर्जी का निधन

नहीं रहे नायपॉल, लंदन में ली आखिरी सांस
12/08/2018
पाक जेल से रिहा होकर 36 साल बाद अपने घर लौटे गजानंद
13/08/2018

लोकसभा के पूर्व स्पीकर सोमनाथ चटर्जी का निधन

नई दिल्ली।  लोकसभा के पूर्व स्पीकर सोमनाथ चटर्जी का सोमवार को निधन हो गया। वे 89 साल के थे। चटर्जी का कोलकाता के एक अस्पताल में निधन हुआ। सोमनाथ चटर्जी पश्चिम बंगाल के अलग-अलग क्षेत्रों से दस बार लोकसभा चुनाव जीते थे। हालांकि एक बार उन्हें वर्तमान में पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी से हार का सामना करना पड़ा था।  पिछले महीने पूर्व लोकसभा अध्यक्ष को मस्तिष्काघात के बाद अस्पताल में भर्ती कराना पड़ा था।  रविवार को सोमनाथ चटर्जी को दिल का दौरा पड़ने की वजह से हालत बिगड़ने के बाद वेंटिलेटर पर रखा गया था। दस बार लोकसभा के सदस्य रहे चटर्जी माकपा की केंद्रीय समिति के भी सदस्य रहे थे।  वह 2004 से 2009 के बीच लोकसभा के अध्यक्ष रहे थे। हालांकि जब उनकी पार्टी ने यूपीए-एक सरकार से समर्थन वापस ले लिया था तो उनसे लोकसभा अध्यक्ष पद से इस्तीफा देने की मांग की गई थी। उन्होंने इससे इंकार कर दिया था जिसकी वजह से 2008 में उन्हें माकपा से निष्कासित कर दिया गया था.  भारत-अमेरिका परमाणु समझौता विधेयक के विरोध में माकपा ने तत्कालीन मनमोहन सरकार से समर्थन वापस ले लिया था। चटर्जी 1968 में माकपा में शामिल हुए थे। चटर्जी के निधन पर कई दलों के नेताओं ने श्रद्धांजलि व्यक्त की है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्वीट कर कहा, ‘पूर्व सांसद और स्पीकर श्री सोमनाथ चटर्जी भारतीय राजनीति का एक मज़बूत स्तंभ थे। वहीं राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने भी घटना पर अपनी संवेदनाएं व्यक्त की हैं। उन्होंने कहा, ‘श्री सोमनाथ चटर्जी के निधन की खबर सुनकर काफी दुखी हूं. यह भारत और बंगाल में सार्वजनिक जीवन के लिए नुकसान है. उनके परिवार और असंख्य शुभचिंतकों के प्रति मेरी संवेदनाएं। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *