अगर आप सरकारी स्कूल में टीचर हैं तो नेशनल अवार्ड के लिए आवेदन करने का आज है आखिरी मौका

women-chandigarh-helmet-ntn
अगर आप महिला हैं और दो पहिया वाहन चलाती हैं तो तुरंत खरीद लीजिए हेलमेट
06/07/2018
हरियाणा सरकार ने सेंटर आॅफ एक्सीलेंस के लिए गठित की संचालन समिति
17/07/2018

अगर आप सरकारी स्कूल में टीचर हैं तो नेशनल अवार्ड के लिए आवेदन करने का आज है आखिरी मौका

चंडीगढ़। अगर आप किसी सरकारी स्कूल में शिक्षक हैं और आपने अभी तक शिक्षक दिवस पर मिलने वाले नेशनल अवार्ड के लिए आवेदन नहीं किया है तो आपके पास बस अब एक दिन का ही समय बचा है। नेशनल अवार्ड के लिए आवेदन करने का अंतिम दिन रविवार है। इसके बाद आप आनलाइन आवेदन नहीं कर पाएंगे। पहले आवेदन करने की अंतिम तिथि 30 जून थी। बाद में केंद्रीय मानव संसाधन एवं विकास मंत्रालय ने शिक्षकों की मांग को मानते हुए अवार्ड के लिए नामांकन करने की अंतिम तिथि को 30 जून से बढ़ाकर 15 जुलाई कर दिया था। वहीं, प्राइवेट स्कूलों के शिक्षकों को सीबीएसई के माध्यम से आनलाइन आवेदन करना था। इसकी अंतिम तिथि 13 जुलाई थी। इस साल सीबीएसई से संबद्ध देश भर के सिर्फ 6 प्राइवेट स्कूलों के शिक्षकों को ही नेशनल अवार्ड दिया जाएगा।
केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्रालय ने पहली बार इस तरह से शिक्षकों से आनलाइन आवेदन मंगवाए हैं और इसके लिए वेब पोर्टल 15 जून को ही लांच हुआ है। ध्यान रहे कि केंद्र सरकार के नए निर्देशों के तहत शिक्षक या स्कूल के प्रिंसिपल खुद ही अपना नामांकन कर पाएंगे। नामांकन वेब पोर्टल के जरिए होगा। चंडीगढ़ के सरकारी और सरकार से सहायता प्राप्त (एडेड) स्कूलों के अलावा नवोदय विद्यालय और केंद्रीय विद्यालय के शिक्षक इस सिस्टम के तहत आवेदन कर पाएँगे। सीबीएसई से संबद्ध प्राइवेट स्कूलों के शिक्षकों को सीबीएसई के माध्यम से अलग पोर्टल पर आवेदन करना होगा। इस सिस्टम के तहत हर जिले से 3 शिक्षकों का चयन किया जाएगा और जिसके बाद हर राज्य से 6 शिक्षक चयनित होंगे। शिक्षकों का मूल्यांकन 100 अंकों के आधार पर होगा।
शिक्षकों को वेबसाइट http://www.nationalawardtoteachers.com/ पर लॉग इन करना होगा। रजिस्ट्रेशन करने के बाद पासवर्ड मिलेगा और शिक्षक पासवर्ड और अपने मोबाइल नंबर के जरिए रजिस्ट्रेशन करवा सकते हैं। सरकार ने एक हेल्पलाइन नंबर (8130463339) भी जारी किया है। अगर किसी को आवेदन करने में दिक्कत आती है तो इस हेल्पलाइन नंबर पर जानकारी ले सकते हैं।

अवार्ड की संख्या हुई कम

सरकार ने अवार्ड की संख्या कम करने के साथ साथ प्रतियोगिता को भी सख्त कर दिया है। अब देश भर के कुल 145 शिक्षकों को ही अवार्ड दिया जाएगा। पिछले साल तक कुल 378 शिक्षकों को राष्ट्रीय अवार्ड दिए जाते थे। पहले सीबीएसई से संबद्ध देशभर के 20 स्कूल के शिक्षकों को अवार्ड दिया जाता था। लेकिन अब यह कोटा 20 से कम कर 6 कर दिया गया है। इसी तरह से आईसीएसई से संबद्ध तदेश भर के स्कूलों का कोटा 6 से कम कर 2 कर दिया गया है। केंद्रीय विद्यालय संगठन का कोटा 16 से कम कर 4 कर दिया गया है। जबकि नवोदय विद्यालय का कोटा 4 से कम कर 2 कर दिया गया है। चंडीगढ़ से भी अब एक ही शिक्षक का चयन होगा। पिछले साल तक चंडीगढ़ से दो शिक्षकों को नेशनल अवार्ड मिलता था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *